The Himachal Times

THE HIMACHAL TIMES NEWS

Search
Close this search box.

विपक्ष की बैठक पर अश्विनी चौबे का बड़ा हमला, कहा- जो भी थोड़े बहुत दांत बचे हैं, जनता 2024 में झाड़ देगी

अश्विनी चौबे- India TV Hindi

Image Source : FILE PHOTO
अश्विनी चौबे

बेंगलुरु में विपक्ष की चल रही मेगा बैठक के बीच केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा क पल्टू राम और उल्टू राम चाचा और भतीजे के पेट में विषैला दांत है, जिसे जनता तोड़कर रहेगी। उन्होंने कहा कि ये कहते हैं कि भारत में लोकतंत्र खतरे में है और जो लोकतंत्र के दुश्मन थे, जिसने देश के अंदर आपातकाल लागू किया, आज उनकी गोद में बैठकर ये बिहार महाठगबंधन की सरकार दिगभ्रित करने का प्रयास कर रही है। 

“बिहार चल नहीं रहा, देश चलाने चले”

नीतीश कुमार को लेकर अश्विनी चौबे ने कहा कि मुंगेरीलाल के हसीन सपने देख रहे हैं, जो साकार नहीं होगा। बिहार चल नहीं रहा, देश चलाने चले हैं। बिहार में बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हुए लाठीचार्ज पर कहा कि जांच सिटिंग जज की अध्यक्षता में हो, जिसे लेकर राज्यपाल से आग्रह किया गया है, नहीं तो सीबीआई की जांच की मांग करते हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी कार्यकर्ता विजय सिंह की पुलिस के लाठीचार्ज में मौत हुई है, उस मामले में बीजेपी मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री पर हत्या का मुकदमा दर्ज कराएगी। 

“बीजेपी उनसे घबराकर बैठक नहीं कर रही”

बेंगलुरु में शुरू विपक्ष की बैठक को लेकर उन्होंने कहा कि उनकी बैठक में कोई दम नहीं है। जो भी थोड़े बहुत दांत बचे हैं सब जनता 2024 में झाड़ देगी, इस बार यह सभी लोग बंगाल की खाड़ी में चले जाएंगे। एनडीए की बैठक को लेकर उन्होंने कहा कि बीजेपी सालों भर बैठक करती है, इसमें कुछ नया नहीं है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि बीजेपी उनसे घबराकर बैठक नहीं कर रही। 

“राजद-कांग्रेस के लोग परिवारवाद-वंशवाद पर टिके”

लालू यादव पर हमला बोलते हुए अश्विनी चौबे ने कहा कि जिसका खानदान ही भ्रष्टाचारी है, वह दूसरे को भ्रष्टाचारी क्या कहेगा। उनको शर्म नहीं आती है कि बच्चों के साथ अब जेल जाने के लिए तैयारी हो रही है। सीबीआई और ईडी का छापा पड़ रहा है। राजद और कांग्रेस के लोग परिवारवाद और वंशवाद पर टिके हुए हैं, जिसका जवाब जनता देगी।

   – मुकुल जायसवाल की रिपोर्ट

Latest India News

Source link

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज